Nandamuri Harikrishna Death : शोक में पूरा फिल्म जगत

अभी-अभी : सड़क हादसे में भारत के महान अभिनेता की मौत…

शोक में पूरा फिल्म जगत

Nandamuri Harikrishna का निधन (Death) तेलंगाना के नालगोंडा में सड़क हादसे में हुआ. नंदमूरी हरिकृष्णा विवाह समारोह में शामिल होने के लिए आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जा रहे थे. उनकी कार एक अन्य वाहन को ओवरटेक करने की कोशिश कर रही थी, तभी पलट गई. पलटने के बाद कार डिवाइडर से जा टकराई और इसके बाद दूसरी ओर से आ रहे अन्य वाहन से टकरा गई.

नंदमूरी हरिकृष्णा (Nandamuri Harikrishna) हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए और अस्पताल ले जाया गया. लेकिन वहां उनका निधन हो गया. हरिकृष्णा तेदेपा पोलित ब्यूरो के सदस्य और तेदेपा अध्यक्ष व आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू के रिश्तेदार थे.

सड़क हादसे पर पुलिस अधिकारियो ने बताया कि तेज रफ्तार कार एक डिवाइडर से जा टकराई। इस दौरान ड्राइवर सीट पर बैठे हरिकृष्ण बाहर सड़क पर जा गिर और उन्हें गंभीर चोट लग गई, हालांकि इस घटना के बदा उन्हें जल्दी ही कामीनेनी अस्पतला में भर्ती कराया गया, जहां पर उन्हें डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

नंदमुरी ने तेलुगू सिनेमा में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम शुरू किया था। वे दिग्गज एक्टर और आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम नंदमुरी तारक रामा राव के चौथे बेटे थे। नंदमुरी की दो शादियां हुईं। पहली शादी से उनके 2 बेटे (कल्याण राम, जानकी राम) और एक बेटी सुहासिनी हैं। दूसरी शादी से नंदुमुरी हरिकृष्णा के एक बेटे हैं। जो साउथ सिनेमा के पॉपुलर स्टार जूनियर NTR हैं।

नंदमूरी हरिकृष्णा परिवार के लिए मनहूस रहा नालगोंडा :

हरिकृष्ण की दो पत्नियां लक्ष्मी और शालिनी हैं. उनके दो बेटे जूनियर एनटीआर और कल्याण राम और एक बेटी सुहासिनी है. उनके सबसे बड़े बेटे जानकी राम की भी 2014 में इसी जिले में सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी. इससे पहले, 2009 में नालगोंडा जिले में हुई एक सड़क दुर्घटना में हरिकृष्ण के दूसरे बेटे जूनियर एनटीआर बच गए थे. उन्हें चोटें आई थीं.

Read more : Hrithik Roshan Angry : मीडिया हाउस पर भड़के ऋतिक

Nandamuri Harikrishna Death : शोक में पूरा फिल्म जगत

Nandamuri Harikrishna Death : शोक में पूरा फिल्म जगत

Nandamuri Harikrishna Death : शोक में पूरा फिल्म जगत

2006 में हरिकृष्णा एक बार फिर तेदेपा में शामिल हुए और उन्होंने 2008 में राज्यसभा के चुनाव भी लड़े. 2013 में उन्होंने आंध्र प्रदेश के विभाजन के विरोध में अपने पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि, वह तेदेपा पोलितब्यूरो के सदस्य के रूप में काम करते रहें.

आंध्र प्रदेश के कृष्ण जिले के निम्माकुर में दो सितम्बर, 1956 को जन्मे हरिकृष्णा तेदेपा के संस्थापक एनटीआर के चौथे बेटे थे. उन्होंने 1960 के दशक में बाल कलाकार के रूप में सिनेमा जगत में कदम रखा था