benefits-of-sleep-नींद-ना-आने

नींद ना आने की वजह, क्या आप जानते हैं ?

इन वजहों से टूट जाती है रात में आपकी नींद

रात में आपकी बार-बार नींद टूटती है? कितनी ही देर बिस्तर पर लेट लें, सपनों की दुनिया में खोने का चांस नहीं मिलता। और अगर नींद आ भी जाए, तो यह गहरी नहीं होती।

कई लोग नींद न अाने के कारण परेशान रहते है जिस कारण वह अपने दिनचर्या को ठीक ढंग से मेन्टेन नहीं कर पाते। यहां तक कि लोगों को इसका कारण तक पता नहीं चलता।

Benefits-of-sleep-नींद-ना-आने

टीवी देखना :

सोते समय ज्यादा टी वी देखने से भी नींद नहीं आती और अगर हम टी वी देखने की बजाय कोई किताब पढ़ लें तो अच्छी नींद आ जाती है।

 टाइम फिक्स्ड न होना :

अगर आपका सोने का समय फिक्स्ड नहीं है तो भी यह अनिद्रा का कारण बन सकता है।कई लोग दिन में सो जाते है जिसके कारण उनको रात के समय नींद नहीं आती ।दिन में भी सोने का समय 15 या 20 मिन्ट होना चाहिए ताकि आप रात को भरपूर नींद ले सकें।

 नशे की आदत :

शराब और सिगरेट का नशा करना और नशा न मिलने की वजह से भी नींद नहीं आती है। जिस दिन आप नशा नही करते उस दिन आपको सारा दिन उदासीनता और चिड़चिड़ापन महसूस होता रहेंगा और रात को नींद भी नहीं आती.

Read more : Sensitive Teeth causes – दांत में पीड़ा का खुलासा

अच्छी नींद के लिए :

रात में सोने से पहले दूध पिएं, जिससे अच्छी नींद आएगी।सोने से पहले गर्म पानी से नहाएं।एेसा करने से आपको रात को अच्छी नींद आ जाएगी।

कैफीन भगाए नींद :

अगर आप भी सोने से पहले एक कप कॉफी या चाय पीने के शौकीन हैं, तो अब इससे तौबा करें। दरअसल, कैफीन नींद को लाने की जगह भगा देती है।

इसके अलावा, अगर आप रात को हैवी मील लेते हैं और वो भी ठीक सोने से पहले, तो तय है कि आप अपने लिए बिन बुलाई आफत ला रहे हैं। हैवी स्टमक रहने से आप तो रातभर अनईजी रहेंगे की, साथ ही आपके डाइजेस्ट सिस्टम को भी एक्स्ट्रा काम करना पड़ेगा।

benefits-of-sleep-नींद-ना-आने

benefits-of-sleep-नींद-ना-आने

हैवी वर्कआउट :

हैवी वर्कआउट भी नींद न आने की वजह बनता है। डॉक्टर्स के मुताबिक, रोजाना आधा घंटे की एक्सरसाइज ही काफी है। इससे आपके मसल्स व जॉइंट्स का वर्कआउट होगा और आपको अच्छी नींद आएगी। सोने से पहले गर्म पानी से नहाएं। दरअसल, हॉट बेद टेंशन देने वाली मसल्स को रिलैक्स करता है।

उम्र की वजह से :

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर आपकी उम्र 50 से 60 साल के बीच है, तो आपकी नींद बच्चे की तरह नहीं हो सकती। इस उम्र में नींद कच्ची होती है और कई बार खुलती है। इसलिए यह सोचकर परेशान न हों कि आपको नींद नहीं आती।