Sensitive Teeth causes – दांत में पीड़ा का खुलासा

अगर आपके दांत में भी हे समस्या तो हो सकता ये बड़ा कारण

दांत में पीड़ा का बड़ा कारण का खुलासा

जब दांतों में अधिक सेंसेशन होने लगता है तो गर्म ठंडी चीजों को सोचकर भी दांतों में सेंसेशन होने लगता है। हर 10 में से 1 व्यक्ति दांतों में सेंसेशन से पीड़ित माना जाता है। दांतों में सेंसेशन के मामले में महिलाएं पुरूषों से आगे हैं। कुछ जानकारों का मानना है कि महिलाओं में सेंसेशन की समस्या पुरूषों से अधिक होती है

किसी भी तरह की संवदेनशीलता नुकसानदायक ही होती है लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि सबसे कम खतरनाक है ठंडे से होने वाली संवेदशनशीलता. यह बहुत कम समय के लिए और कभी-कभी ही होती है लेकिन अगर दर्द लगातार और दांतों के आसपास एक सीमित क्षेत्र तक बना रहे, तो यह माइक्रो-क्रेक, फिलिंग के निकलने और केविटी का संकेत हो सकता है.

Sensitive Teeth causes – दांत में पीड़ा का खुलासा

अगर आपके दांत, गर्माहट के प्रति संवेदनशील हैं और चबाने में दबाव महसूस करते हैं तो आपको डॉक्टर को दिखाने की जरूरत है क्योंकि यह दांतों में किसी तरह का इन्फेंक्शन हो सकता है.

खासकर गर्म चीजों से होने वाली सेंसेटिविटी दांतों के लिए सबसे ज्यादा नुकसानदेह है। यह दांतों में किसी भी प्रकार के संक्रमण का खतरा हो सकता है। हालांकि किसी भी प्रकार की संवेदनशीलता खतरनाक होती है। लेकिन सबसे कम खतरनाक होती है ठंडे चीजों से होने वाली सेंसटिविटी।

Read more : Women Pragrency Period : खान-पान पर भी निर्भर होते हैं पीरियड्स

ठंडे चीजों से होने वाली सेंसटिविटी बहुत कम मात्रा में होती है। और कभी कभी होती है। हालांकि इसका बहुत देर तक बना दांत संबंधी बीमारी का भी संकेत हो सकता है

स्वस्थ मुंह में संवेदनशील (सेंसिटिव) दांत बहुत पीड़ादायक हो सकते हैं. कई बार दांत इतने संवेदनशील होते हैं कि गर्म चाय पीने और ठंडी आईस क्रीम खाने के ख्याल से ही आपको घबराहट होने लगती है. पर आप अकेले ऐसे व्यक्ति नहीं हैं.

Sensitive Teeth causes - दांत में पीड़ा का खुलासा

Sensitive Teeth causes – दांत में पीड़ा का खुलासा

आइये जानते हैं आपके दांतो में सेंसेटिविटी कौन कौन से कारण हो सकते हैं ?

खानपान में लापरवाही :

खानपान में लापरवाही करने से कई तरह की स्वास्थय सम्स्याओं का सामना करना पड़ता है। पोषक तत्वों से भरपूर खाना होता के लिए जरूरी होता है। दांतों के लिए मीठे का अधिक सेवन अच्छा नहीं होता है और जंक फूड भी दांतों को नुकसान पहुंचाने में सहायक होते हैं।

इसलिए हमेशा कोशिश करें कि बैलेंस डाइट ही लें और दांत दर्द की समस्या से गुजर रहे हैं तो ऐसी चीजों का सेवन न करें जिससे दांतों में जोर पड़े। हरी सब्जी और फलों का सेवन काफी लाभदायक हो सकता है।

दांतों से छेड़खानी :

कुछ लोग अक्सर खाना खाने के बाद दांतों में फंसे हुए चीजों को निकालने के लिए झाड़ू के सिंक, टूथपिक आदि का गलत तरीके से इस्तेमाल करते हैं। कई लोग इसे अपनी आदत बना लेते हैं। इससे दांत और मसूड़े कमजोर हो जाते हैं। जिससे डेंटाइन को नुकसान होने लगता है।

मसूड़े ढीले पड़ना:

दांतों के डेंटाइन खुल जाने से मसूड़े ढीले पड़ने लगते हैं। यह समस्या दांतों के लगातार टूटने या खराब होने से होती है। इसी वजह से दांतों में सेंसिटिविटी होती है।

कैविटी :

यह समस्या अक्सर अधिक मीठा खाने या ठंडा गर्म खाने से होता है। इसकी वजह से दांत सड़ने लगते हैं। और यह सड़न कई बार गंभीर रूप ले लेते हैं अगर यह सड़न नसों तक पहुंच जाए दांत सड़ सड़ कर टूटने भी लगते हैं। इससे दांतो में कमजोरी आती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे